स्वतंत्रता संग्राम के दौरान प्रमुख वचन और नारे , Indian Freedom Fighters Slogans in Hindi - GK 2 JOB, Hppsc questions in Hindi, Hp gk, सामान्य ज्ञान के प्रश्न 2021,सामान्य ज्ञान प्रश्नोत्तरी

Breaking

स्वतंत्रता संग्राम के दौरान प्रमुख वचन और नारे , Indian Freedom Fighters Slogans in Hindi


स्वतंत्रता सेनानियों के  प्रसिद्द नारे 


भारत के स्वतंत्रता संग्राम में नारों की विशेष भूमिका है स्वतंत्रता के लिए बोले गए हर नारे ने भारतीय क्रांतिकारियों में जान फूंक  दी और  हर नारा अंग्रेजों के ताबूत में आखिरी कील साबित हुआ । भारत की आजादी के लिए चले स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन में प्रमुख भूमिका निभाने वाले मशहूर स्वतंत्रता सेनानियों ने कई नारे दिए जिसके कारण हमें स्वतंत्रता मिली । इस लेख में प्रस्तुत हैं उन नारों के तथा नारे देने वाले स्वतंत्रता सेनानियों  के नाम

 नारा/बचन                       क्रांतिकारी का नाम


संपूर्ण क्रांति                                    जयप्रकाश नारायण

जय जगत                                      बिनोवा भावे

"साम्राज्य का नाश हो"                     शहीद भगत सिंह


हिंदी हिंदू हिंदुस्तान                          भारतेंदु हरिश्चंद्र


हे राम                                            महात्मा गांधी

"पूर्ण स्वराज"                                  पंडित जवाहरलाल नेहरू

"कर मत दो"                                   सरदार वल्लभभाई पटेल


"मारो फिरंगी को"                            मंगल पांडे


 "साइमन कमीशन वापस जाओ"        लाला लाजपत राय


"सारे जहां से अच्छा हिंदुस्ता हमारा"     मोहम्मद इकबाल


"स्वराज मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है"     बाल गंगाधर तिलक

"मरो नहीं मारो "                               लाल बहादुर शास्त्री

 "अंग्रेजों भारत छोड़ो"                        महात्मा गांधी


 "जय जवान जय किसान".                 लाल बहादुर शास्त्री



" जवान जय किसान जय विज्ञान"        अटल बिहारी वाजपेई

"वंदे मातरम"                                   बंकिम  चट्टोपाध्याय


"जय हिंद"                                      नेताजी सुभाष चंद्र बोस
"करो या मरो"                                  महात्मा गांधी

" दिल्ली चलो"                                 सुभाष चंद्र बोस


"इंकलाब जिंदाबाद " .                       सरदार भगत सिंह

आराम हराम है                                 पंडित जवाहरलाल नेहरू

हु लिव्स इफ इंडिया डाईज  ( who lives if India Dies )                पंडित जवाहरलाल नेहरू



"वेदों की ओर लौटो"                         किसने कहा दयानंद सरस्वती

"विजयी विश्व तिरंगा प्यारा".                 श्याम लाल गुप्ता

" जन गण मन अधिनायक जय हो "      रविंद्र नाथ टैगोर 

" तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा "  नेताजी सुभाष चंद्र बोस

"नेहरू देश भक्त है और जिन्ना राजनीतिज्ञ " मोहम्मद इकबाल

"जिंदगी तो अपने दम पर जी जाती है दूसरों के कंधों पर तो सिर्फ जनाजे उठाए जाते हैं"

 भगत सिंह

" सत्यमेव जयते "

पंडित मदन मोहन मालवीय

"दुश्मन की गोलियों का हम सामना करेंगे आजाद ही रहे हैं आजाद ही रहेंगे "

चंद्रशेखर आजाद

"अब भी जिसका खून नहीं खौला खून नहीं वो पानी है जो देश के काम ना आए  बेकार जवानी है "
चंद्रशेखर आजाद

"मेरे सिर पर लाठी का एक-एक प्रहार अंग्रेजी शासन के ताबूत की कील साबित होगा "     
 लाला लाजपत राय


"भारतवर्ष को तलवार के बल पर जीता गया था और तलवार के बल पर ही उसे ब्रिटिश कब्जे में रखा जाएगा "
लॉर्ड एल्गिन

"सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है देखना है जोर कितना बाजुए कातिल में है"
 रामप्रसाद बिस्मिल

 "खून से खेलेंगे होली गर वतन मुश्किल में है  "

अशरफ उल्लाह खान

"मुसलमान मुर्ख थे,  जो उन्होंने सुरक्षा की मांग  की  और हिंदू उनसेे भी मूर्ख थे जिन्होंने उस मांग को ठुकरा दिया ।"
 अबुल कलाम आजाद

"पहले वह आप पर ध्यान नहीं देंगे फिर वह आप पर हंस लेंगे फिर आप से लड़ेंगे और फिर आप जीत जायेंगे"

महात्मा गांधी

"आलसी व्यक्तियों के लिए भगवान अवतार नहीं लेते वह मेहनती व्यक्तियों के लिए अवतरित होते इसलिए कार्य करना आरंभ करें"

बाल गंगाधर तिलक

अगर लोगों को सच्चा लोकतंत्र या स्वराज चाहिए तो वह उन्हें कभी सत्य और हिंसा के द्वारा प्राप्त नहीं हो सकता"
 लाल बहादुर शास्त्री

"यह तीर्थ महा तीर्थों का मत है मत कहो इसे कालापानी तुम सुनो यहां के कण-कण से गाथा बलिदानी "

विनायक दामोदर सावरकर


"मेरा रंग दे बसंती चोला माए रंग दे बसंती चोला"
 सुखदेव

"मेरी एक ही इच्छा है कि भारत एक अच्छा उत्पादक हो और इस देश में कोई उनके लिए आंसू बहाता भूखा ना रहे"
 सरदार वल्लभभाई पटेल

अन्तत:

 
इस देश को आजाद कराने के लिए हजारों लोगों ने अपने प्राण न्योछावर किए हैं लेकिन आज इसी देश में कुछ लोग स्वार्थ ,बेरोजगारी, रिश्वतखोरी ,महंगाई ,भ्रष्टाचार ब दहेज इत्यादि बुराइयों की गुलामी कर रहे हैं आज जरूरत है एक और स्वतंत्रता आंदोलन की इन सब बीमारियों से पार पाने के लिए  । स्वतंत्रता सेनानियों के  प्रसिद्द नारे , Indian Freedom Fighters Slogans in Hindi के बारे में जरूर  टिप्पणी करें ।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Thanks for your valuable suggestions to this post

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *